सोमवार, 21 फ़रवरी 2011

राज्य भण्डार गृह निगम 2.81 लाख मीटरिक टन क्षमता के नये गोदाम बनाएगा : श्री अशोक बजाज

संचालक मण्डल की बैठक सम्पन्न

    रायपुर, 21 फरवरी 2011

     छत्तीसगढ़ राज्य भण्डार गृह निगम द्वारा अनाजों के सुरक्षित भण्डारण के लिए प्रदेश के विभिन्न अंचलों में लगभग 85 करोड़ रूपए की लागत से दो लाख 81  हजार मीटरिक टन क्षमता के नये गोदाम बनाने का निर्णय लिया गया है। इन गोदामों के बन जाने से निगम की स्वनिर्मित भण्डारण क्षमता लगभग ग्यारह लाख मीटरिक टन हो जाएगी। यह निर्णय राज्य भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष श्री अशोक बजाज की अध्यक्षता में आज यहां संचालक मण्डल की 24वें बैठक मे लिया गया। बैठक में खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता सरंक्षण विभाग के प्रमुख सचिव श्री विवेक ढांड सहित संचालक मण्डल के सदस्यों में सर्वश्री ए. के. सिंह, कौशलेन्द्र सिंह, जे.वी.बेन्द्रे, विपीन कुमार भारद्वाज, ए.आर.साहू एवं निगम के प्रबंध संचालक श्री जितेन कुमार उपस्थित थे।
    श्री बजाज ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश में अनाजों के सुरक्षित भण्डारण के लिए विभिन्न विकास प्राधिकरणों से गोदामों के निर्माण के लिए राशि उपलब्ध करायी है। इसके कारण ही आज भण्डारण क्षमता में वृध्दि हो पाई है। उन्होंने कहा कि निगम में निवेशित धन के उपयोग से निगम का व्यवसाय सतत् आगे बढ़ रहा है। इस योगदान के लिए वे सभी को धन्यवाद दिया और आशा व्यक्त किया है कि भविष्य में निगम आप सभी के सहयोग से नई ऊचाई तय करेगा। उन्होंने कहा कि वित्तीय वर्ष 2009-10 में अनाजों के सुरक्षित भण्डान के लिए प्रदेश में भण्डार गृह निगम की 106 शाखाएं सचालित थी। वर्तमान में इसकी संख्या 108 हो गई है। उन्होंने कहा कि निगम ने प्रतिवर्ष  अपनी भण्डारण क्षमता का सत्-प्रतिशत से अधिक उपयोग किया है।
    श्री बजाज ने बताया कि निगम द्वारा वित्तीय वर्ष 2009-10 में 52 करोड़ 39 लाख 44 हजार का राजस्व अर्जित किया है। उन्होंने बताया कि आलोच्य वर्ष में निगम का कुल अर्जित लाभ 33 करोड़ 17 लाख 19 हजार रूपए तथा आयकर अदायगी के पश्चात् शुध्द लाभ 21 करोड़ 84 लाख 16 हजार रूपए है। इस प्रकार निगम की कुल आय में 32.59 प्रतिशत की वृध्दि हुई है। श्री बजाज ने कहा कि राज्य भण्डार गृह निगम निरंतर लाभ में चल रहा है और अंशधारियों को 20 प्रतिशत लाभ का भुगतान भी कर रहा है। उन्होंने बताया कि लाभार्जन के कारण निगम के निदेशक मण्डल ने प्रतिवेदित वर्ष में भी प्रदत्त पूंजी पर 20 प्रतिशत की दर से लाभांश भुगतान करने का निर्णय लिया है। श्री बजाज ने कहा कि निगम अपने भण्डारगृहों में भाण्डारित स्टाक की गुणवत्ता एवं उसकी मात्रा की सुरक्षा सुनिश्चित करने का कार्य करेगा।

3 टिप्‍पणियां:

  1. शुभागमन...!
    हिन्दी ब्लाग जगत में आपका स्वागत है, कामना है कि आप इस क्षेत्र में सर्वोच्च बुलन्दियों तक पहुंचें । आप हिन्दी के दूसरे ब्लाग्स भी देखें और अच्छा लगने पर उन्हें फालो भी करें । आप जितने अधिक ब्लाग्स को फालो करेंगे आपके अपने ब्लाग्स पर भी फालोअर्स की संख्या बढती जा सकेगी । प्राथमिक तौर पर मैं आपको मेरे ब्लाग 'नजरिया' की लिंक नीचे दे रहा हूँ आप इसके दि. 18-2-2011 को प्रकाशित आलेख "नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव" का अवलोकन करें और इसे फालो भी करें । आपको निश्चित रुप से अच्छे परिणाम मिलेंगे । शुभकामनाओं सहित...
    http://najariya.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस नए सुंदर से चिट्ठे के साथ आपका हिंदी ब्‍लॉग जगत में स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. " भारतीय ब्लॉग लेखक मंच" की तरफ से आप को तथा आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामना. यहाँ भी आयें, यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो फालोवर अवश्य बने .साथ ही अपने सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ . हमारा पता है ... www.upkhabar.in

    उत्तर देंहटाएं