रविवार, 20 फ़रवरी 2011

सिरपुर महोत्सव के दूसरे दिन श्री बजाज ने किया कार्यक्रम का शुभांरभ


महासमुंद, 19 फरवरी 2011
छत्तीसग़ढ राज्य भंडार गृह निगम के अध्यक्ष श्री अशोक बजाज ने कहा कि छत्तीसग़ढ के पवित्र तीर्थ स्थली सिरपुर में उत्खनन से जो अवशेष प्राप्त हो रहे है उससे स्पष्ट है कि यहाँ सदियों पहले विकसित मानव सभ्यता का अस्तित्व था। मुख्य अतिथि की आंसदी से श्री बजाज सिरपुर महोत्सव के दूसरे दिन माघ पूर्णिमा के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।
    श्री बजाज ने कहा कि सिरपुर में लक्ष्मण मंदिर, बौध्द स्तूप जैसे पुरातात्विक और धार्मिक महत्व के धरोहर स्थित है, इन धरोहरों सहित पूरे सिरपुर क्षेत्र को संरक्षित रखने की जरूरत है। सिरपुर को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर महत्ता प्रदान करने के उद्देश्य से ही राज्य सरकार द्वारा हर वर्ष सिरपुर महोत्सव का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि सिरपुर में खनन से प्राप्त हो रहे पुरातात्विक अवशेषों को संरक्षित रखने के लिए यहाँ विशेष संग्रहालय स्थापित करने की आवश्यकता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता सरायपाली विधायक डॉ.हरिदास भारद्वाज ने की इस अवसर पर विशेष अतिथि श्री चंद्रहास चंद्राकर , जनपद पंचायत अध्यक्ष डॉ. रश्मि चंद्राकर, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती पार्वती साहू, सरपंच श्रीमती पुष्पा यादव,  जनपद पंचायत सदस्य श्री तुलू राम धु्रव सहित श्री राकेश  चंद्राकर,श्री दाऊलाल चंद्राकर श्री माखनधर   दीवान,श्री शोभाराम साहु , श्री माधव टाँकसाले  ,श्री सेतराम पटेल ,श्री सुखीराम हिरवानी   ,श्री पोखन ढीढी ,कलेक्टर अलर मेल मंगई डी,     और श्री ओमप्रकाश चौधरी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें