गुरुवार, 22 मार्च 2012

नगरी में 1800 मीटरिक टन के गोदाम का शिलान्यास



आदिवासी क्षेत्रों में भण्डारण क्षमता बढ़ाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : श्री अशोक बजाज


त्तीसगढ़ राज्य भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष श्री अशोक बजाज ने कहा कि प्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों में अनाज भण्डारण की क्षमता बढ़ाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। श्री बजाज ने आज धमतरी जिले के तहसील और विकासखण्ड मुख्यालय नगरी  (सिहावा) में 60 लाख रूपए की लागत से बनने वाले 1800 मीटरिक टन क्षमता के गोदाम का भूमिपूजन कर शिलान्यास किया। श्री बजाज ने शिलान्यास समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में धान का उत्पादन हर साल बढ़ता जा रहा है। किसानों से धान खरीदी की उत्तम व्यवस्था राज्य शासन द्वारा समितियों के माध्यम से की गई है। इस वर्ष बीते खरीफ में सहकारी समितियों में लगभग 60 लाख मीटरिक टन धान की आवक हुई है। यह वास्तव में एक नया कीर्तिमान है। बड़ी संख्या में उपस्थित नागरिकों और किसानों को सम्बोधित करते हुए श्री बजाज ने कहा कि राज्य सरकार कृषि और उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाओं का संचालन कर रही है।  प्रदेश में धान सहित दलहन-तिलहन तथा रबी फसलों का उत्पादन भी निरन्तर बढ़ रहा है। कृषि उपजों की विपुल पैदावार को सुरक्षित रखने के लिए मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप राज्य भण्डार गृह निगम द्वारा प्रदेश के सभी जिलों में गोदामों के निर्माण की एक व्यापक कार्य योजना तैयार की गई है। इसमें आदिवासी क्षेत्रों को विशेष प्राथमिकता दी जा रही है। उसी कार्य योजना के तहत आज नगरी में भी गोदाम निर्माण का शुभारंभ हुआ है। इस अवसर पर जनपद पंचायत अध्यक्ष और पूर्व विधायक श्रीमती पिंकी धु्रव, मध्यप्रदेश के पूर्व विधायक श्री शिवराज शाह, नगर पंचायत नगरी के अध्यक्ष श्री नागेन्द्र शुक्ल और जनपद सदस्य श्री विकल गुप्ता सहित सर्वश्री राजेन्द्र गोलछा, अमर सिंह पटेल, जीवन नाहटा, रवि दुबे, प्रकाश बैस, आलोक सिन्हा, अचला यदु, प्रतिमा सिन्हा, अजय नाहटा, शिवशंकर गुप्ता, रामाधीन तथा राज्य भण्डार गृह निगम के कार्यपालन अभियंता श्री साबिर खान, वाणिज्य प्रबंधक श्री एम.एल. माकोड़े और क्षेत्रीय प्रबंधक श्री चटर्जी तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे। DPR

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें